ब्लागवाणी ने ये क्या कर दिया?

आज रात को मै ब्लाग पढ रहा था। पढते पढते एक पोस्ट पर गया वहां एक फोटो मे संदेश लिखा था।

धीरे धीरे वो फोटो जैसे जैसे खूलता जा रहा था मै उतना ही चौकता जा रहा था की ये क्या, ईतना अच्छा काम।

ये देखेये वो संदेश

हम मानवता के रक्षक हैं।

ये सुलभ जी के ब्लाग पर लिखा था। वो पोस्ट यहां है।

बिना सुलभ जी के बताए ये फोटो मिलता नही ईसलिये सुलभ जी को बहुत बहुत धन्यवाद जो उनहोने ईतना अच्छा काम किया।

 चिट्ठाजगत का फैन मै पहले से ही था पर आज से मै ब्लागवाणी का भी फैन हो गया हूं। 


फैन क्यों बनूंगा भाई?

दरअसल पहले से ही मैरा ब्लागवाणी से तू तू मै मै थी 🙂  

बहुत दिनो से मै कई ब्लाग पर देख रहा था कि धर्म,जाती पर लेख मिल रहे थे। अब एसे लेख पर टिप्पीयाना मतलब उसे और बढावा  देना लेकीन कई एसे थे जिसपर टिपीयाना जरूरी हो  गया था। पर आज ये ब्लागवाणी का काम बहुत अच्छा लगा। 






जय हो ब्लागवाणी की।

Our New Site www.Dewlance.com
3 responses to “ब्लागवाणी ने ये क्या कर दिया?

कुछ लोग अच्छी तकनीक का गलत प्रयोग करने लग गए हैं. हम लोग संगठित हो कर ऐसे ही जवाब दे सकते हैं.
विजेट(सन्देश बोर्ड) लगाना या न लगाना महत्व नहीं रखता है. सन्देश को आत्मसात कर ब्लोगिंग करेंगे तो सुरक्षा अपने आप हो जायेगी.

त्वरित कार्यवाही के लिए. कन्नू और शिवम् जी का धन्यवाद!

हैप्पी ब्लोगिंग | जय हिंद

ब्लॉग लेखन और टिप्पणियों में संयम और शालीनता होनी ही चाहिए.

Leave a Reply