मात्र 3MB का Operating System – दुनीया का सबसे छोटा OS(अपने कंप्युटर पर चला सकते हैं)

दुनीया का सबसे छोटा ओपरेटींग सिस्टम, सिर्फ 3MB मे ओपरेटींग सिस्टम, ये कैसे मुम्कीन है।

KolibriOS – एक एसा ओपरेटींग सिस्टम है जो मात्र 3MB का है और ईसे ईन्सटाल करना तो बहुत आसान है, कुछ करना ही नही है –   बुटेबल सि्डी डालीए या.ISO और सब काम ये खुद ही कर देगा।

ईसे आसानी से ईन्सटाल कैसे करें?
पहले आप मेरे पिछले पोस्ट से Virtual PC का साफ्टवेयर अपने कंप्युटर मे डाल लें ताकी आपको ईसको ईस्तेमाल करने के लिए अपना कंप्युटर फारमेट नही करना पडे।

अब  KolibriOS  को यहां क्लिक कर के डाउन्लोड करें।  और ईसके बाद आपको ईसको Extract करने के लिए 7z Extractor डाउन्लोड करना पडेगा,   7z extractor को ईन्सटाल करने के बाद उसको खोलें और उसके बाद KolibriOS  को उससे एक्सट्रेक्ट कर दें।

एक्सट्रेक्ट करने के बाद आपको एक उसमे .ISO नाम का फाईन दिखेगा उसे डेस्कटाप पर ला दें या वहीं रहने दें।

अब VirtualPC खोलें और अपने द्वारा बनाए Virtual pc को स्टार्ट कर दें। और अब आपको एक DOS जैसा प्रोग्राम दिखेगा, उसमे निचे एक CD का आईकन बना होगा उसपर राईट क्लिक करें और .Run from .ISO पर क्लिक करें, जैसे ही आप KolibriOS का .ISO फाईल सलेक्ट करेंगे तब kolibriOS ईन्सटालेसन चालु कर देगा और ३० second के अंदर ईन्सटाल को कर चलने भी लगेगा।

उसमे बहुत बढीया बढीया कुछ गेम भी है जो बहुत पापुलर हैं, उन गेमो का लुफ्त उठाईए…

Our New Site www.Dewlance.com
8 responses to “मात्र 3MB का Operating System – दुनीया का सबसे छोटा OS(अपने कंप्युटर पर चला सकते हैं)

ऐसा ही कुछ हमें सन १९९८ में किसी कंप्यूटर मैगज़ीन के साथ आने वाली सीडी में भी मिला था जो एक छोटी फ्लोप्पी में समां जाती थी और बिना इंस्टाल किये फ्लोप्पी से ही चलती भी थी. बुढ़ापे के कारण अब नाम याद नहीं रह गया है. हमने जब ज्यादा खोज बीन की तो पता चला था की इसे portable devices के लिए बनाया गया था. आप की यह खोज निश्चित ही महत्वपूर्ण है परन्तु देखो न कितना झंझट है. virtual PC बनाओ, एक अलग extracter डाउनलोड करो वगैरह वगैरह. आप तो बड़े हुनर वाले हैं. ऐसा करो की पूरा OS एक सीडी पर आ जाए और वहीँ से रन भी करे जैसे linux की उबुन्तु आ रही है. अपने अन्वेषण जारी रखें. शुभकामनाएं.

सायद ईसकेलिए लाईव सीडी भी है, लेकीन उसमे एक सिडी बर्न करना पडेगा और .iso का बर्नर भी डाउन्लोड करना पडेगा।

आपने बताया वैसे वैसे करके गेम तो खेल लिए लेकिन बाकी काम कौन बताएगा कि इसमें कैसे होते है जैसे नेट चलाना | हमारा बेसिक काम तो वही है |प्रोसेसिंग की स्पीड कम लगी है |

बहुत से सवालों के जवाब छोट गए जैसे :- इसे क्यों अपनाएं, वायरस का क्या हाल है, स्पीड, दूसरे सोफ्टवैयर का क्या होगा, इसमें कौन कौन से सॉफ्टवेर साथ हैं….

राजनीति , व्यापार , मनोरंजन , स्पोर्ट और गेम्स , जीवन एवं , घटनाक्रम , स्वास्थ्य – http://www.jeejix.com – Two Minutes Registration, Join with millions !!

Leave a Reply