डू फोलो करना बहुत आसान है। कई साईटें डू-फोलो विजेट देती हैं और वो विजेट लगाते ही आपका ब्लाग डू-फोलो हो जाएगा। पर आप अपने साईट का लोड क्यो बढाएंगे जब वह काम सिर्फ कूछ लिखे कोड को हटाने से ही हो जाए? कैसे ब्लाग को डू-फोलो मे बदलें?सबसे पहले ब्लागर में लाग-ईन करेंफिर Layout …

अगर आप अपने ब्लाग के कमेंट्स को Do Follow पर सेट कर देते हैं तो आपका साईट 500% ज्यादा उप्पर उठेगा। यानी खूब विजीटर आएंगे और पेजरैंक खूब तेजी से बढेगा। अगर आपके ब्लाग पर कोई कमेंट करेगा तो उसी वकत वो गूगल उसे सर्च मे डाल देगा। Example:- मै अपना साईट गूगल मे सर्च …

साईट और ब्लाग,ईमेल 9 दिनो के लीये बंद है। यदी आप कोई ईमेल करते हैं तो भी मै उसे नही देख सकता। और मेरे साईट hindimaj.com/toplinks पर अगर अपना साईट डालते हैं तो वो नौ दिनो बाद ही एफूव होगा। अभी हिन्दीमजा मे 119 मेंबर हो गै हैं। सोच रहा हूं ईसमे membership भी डाल …

मै अब kunnu_singh18@yahoo.co.in नही प्रयोग करता पर किसी ने मेरे ईमेल का नाम प्रयोग कर के गालींया भेजी थी। मै बताना चाहता हूं की अगर मूझे एसा करना होता तो मै अपना ईमेल का नाम क्यो प्रयोग करता। अगर आपको भी मीला है तो आप उसपर Reply करें जैसे ही रीपलाई पर क्लिक करेंगे तो …

क्या आप परेसान है कि आपना नेट स्पीड बहुत कम है और सोच रहे है की ये स्पीड तो नेट के स्पीड से निरभर करता है। नही हर बार जरूरी नही है की आपका कंप्यूटर या नेट का स्पीड किसी एक चिज पर निर्भर करता है।कई बार कई सारे पेज खोलने पर कंप्यूटर हैंग हो …

कई सालो से ये सोच रहा था की आखीर ब्लागवाणी और चिट्ठाजगत बना कैसे है??सिर्फ मै ही नही और भी लोग हैं जो ये जानने की कोशीस मे लगे हैं और नाकाम हो रहे हैं। पर आज मूझे ब्लाग एग्रीगेटर का स्क्रीप्ट मील गया है और बहुत बढीया भी है। अभी मैने उसमे फिड डाले …

अभी मै चिट्ठाजगत जैसा साईट खोलने वाला हूं। और मै यह भी जानना चाहूंगा की आप उस साईट मे क्या चाहेंगे? या कोई दिक्कत आए तो मूझे बताना नही भूलियेगा। और अभी मैने एक पोस्ट लिखा था dewlance पर जिसमे मैने कहा था कि मैने एक नया साईट खोला है जिसपर आप आसानी से रजीस्टर …

क्या आपने अभी अभी नया वर्डप्रेस डाला है या फेन्टेस्टीको की मदद से नया वर्डप्रेस ईंस्टाल कर लिया है। पर पोस्टींग करने पर “ड्ब्बे जैसा या ???????? बन जाता है” और जब ईंग्लीस मे लिखते हैं तो पोस्ट हो जाता है। तो डरीये नही ईसका आसान सा सामाधान है। आप वर्डप्रेस के ईंस्टाल डायरेक्ट्री मे …

क्या ब्लागवाणी लोगो को मूर्ख बनाता रहता है? जि हां। ब्लागवाडी Data Base का प्रयोग ही नही करता तो आप उसमे लाग-ईन कैसे करेंगे। ईमेल वेरीफीकेसन में gmail मे लिंक पर क्लिक करने पर खूद gmail ही खूल जाता है और याहू मे तो लिंक ही नही देता 🙂 और जब लाग-ईन करने जाएंगे तो …