नैनीताल घूम के आया पर सिर्फ दो दीन के लीये गया था। क्या करूं छूट्टी ही नही था। और अपना वाला मोबाईल नही ले गया था ईसलीये ज्यादा फोटो नही लीया हूं। घर जाते समय रासते मे पडा था, मोबाईल के कैमरे मे खीच लीया। घूमते घूमते ट्रेन के पास पहूच गया था। यहां से …

आप सब को, आपके परीवार , परीजनो को दिपावली की हार्दीक शूभकामनाऐं !!राम जी की जीत की खूशी, हमारी खूशी।कूछ शब्द जीसे सून कर खूब आनंद आता है, खील उठता है चेहरा।वो शब्द हैं। (दिपावली वाले सीर्फ) 1. ” टीम टीम आई दिवाली “ – मन मे जगमगाते दिप दीखने लगते हैं, जगमगाती मोमबत्तीयां दीखती …

आज का पहेली, कोई सूलझा नही पाएगा ईसे। सपने मे सपना आता हैउस सपने मे भी एक और सपना आता हैबताओ सपने मे कीतना सपना आता है? ये तो लीखने का नशा हैये मेरा जूनून है……ये तो मेरा ही खून है 🙂The EndAuction website store free % earn brother software more Our New Site www.Dewlance.com

आज बताने जा रहा हूं आपको एक ऐसे छूपारूस्तम बीमारी की जीसे आप पढ के हैरान हो जाऐंगे।और बताउंगा “क्या करें की पसीना ना आए” आप धूप मे नीकलते हैं और ज्लद ही पसीने से भीग जाते हैं। या आपके साथ कोई और भी नीकला है और सब्से पहले आप पसीने से भीग जाते हैं …

आज आपको आस्चर्य होगा की एक एसा बंदर मीला है जो उंगली से भी छोटा है।विशवास नही होता ना? तो देखीये फोटो भी है।जब देखा तो मन कीया की काश सामने होता कीतना मजा आता। जब ईतना छोटा एक बंदर है तो उसका छोटा भाई कीतना छोटा है।अभी पूस्ती नही हूई है की बंदर है …

आज आपको आस्चर्य होगा की एक एसा बंदर मीला है जो उंगली से भी छोटा है।विशवास नही होता ना? तो देखीये फोटो भी है।जब देखा तो मन कीया की काश सामने होता कीतना मजा आता। जब ईतना छोटा एक बंदर है तो उसका छोटा भाई कीतना छोटा है।अभी पूस्ती नही हूई है की बंदर है …

“यहाँ तो सब उल्टा है मै जिसका ब्लॉग पड़ता हूँ और वह म……. जाता है”ये लीखा “महेंद्र मिश्रा” जी ने। मेरे पिछले पोस्ट पर “मेरा ब्लोग पढने वाला तो बम धमाको मे मर गया, अब किसका वीरोध करूं?” यहां ईनके विरोधा-भाष कमेंट देने से पहले सायद ईनहोने पढा नही है कि मैने क्या लीखा है। …

एक तरफ “घोस्ट बस्टर जी” हैं कहते हैं। कि “अब औरत होने का सबूत पेश करना होगा?” 🙂 और दूसरी तरफ हैं “रख्शंदा जी” कहती हैं कि “कौन लिख रहा है “घोस्ट बटर” के नाम से? 🙂 मैने ईनकी पोस्टे पढ लीया है और पढने मे बहुत मजा आया। जी हां कहानी की तरह पढता …