मेरा ब्लोग पढने वाला तो बम धमाको मे मर गयाअब किसका विरोध करूं मै लीखता था और वो पढ के खूश होता था और उसकी खूशी मे ही मेरा खूशी थाअब कौन? कहेगा वाह बहुत अच्छा लीखे क्यो की उसे तो उन आतंकवादीयो ने मार दीया जो ये भी नही सोचते की एक को मारुंगातो …

ई-बे की तरह एक साईट खोलने की सोच रहा हूं। ये फ्री रहेगा। और ना ही कोई चार्ज लगेगा कोई सामान बेचने का(मै साईट की तरफ से कोई चार्ज नही लगाउंगा) अब ये मत कहीयेगा की ई-बे का क्या मूकाबला मै तो सीर्फ एकजामपल दे रहा हुं ताकी आप समझ जाए की कीस तरह की …

आज बहोत खूश हूं क्यो की मेरे ब्लोग का पेजरैंक पहले से ही 2 है। और सत्रह हजार(17340) वीजीटर मेरे ब्लोग पर आ चूके हैं। ईसी तरह एक साल और हो जाए तो दो साल का ब्लोग हो जाएगा। देखीये मेरा ब्लाग कीतना छोटा है एक साल का ही है।बस एक साल, चू…चू कीतना छोटा …

आज मै netscape को खोजते हूवे FLOCK BROWSER देख लीया। ईसके फंसन तो बहुत से हैं। ये मूझे फायरफाक्स से भी अच्छा लगा। ब्लाग पोस्टींग करना हो बीना ईंटरनेट लगाए लीख कर सेव कर लें या नेटc लगा कर उसी वक्त पोस्ट कर दें। ईसके उप्योगीता बताऊंगा तो दंग रह जाऎंगे।1. कीसी भी ब्लाग कि …

मेरा हिन्दीमाजा www.hindimaja.com का होमपेज आज बन गया। पहले बेकार था। पर अब मैने ईसे अच्छी तरह सजा दीया है। नं 1 क्वालीटी तो नही पर एक बार आप भी देख लें और बताए की कैसा बना है? क्या कमी है? पूरा बन तो गया है बस कूछ कम लींक हैं।मैने ईसके मेनू बटन पर …

एक तरफ “घोस्ट बस्टर जी” हैं कहते हैं। कि “अब औरत होने का सबूत पेश करना होगा?” 🙂 और दूसरी तरफ हैं “रख्शंदा जी” कहती हैं कि “कौन लिख रहा है “घोस्ट बटर” के नाम से? 🙂 मैने ईनकी पोस्टे पढ लीया है और पढने मे बहुत मजा आया। जी हां कहानी की तरह पढता …

डाउन्लोड करें GHOST BROWSER(NEW) आज डाउन्लोड करने के लीये है एक ब्राउजर जीसके कई फीचर्स कीसी भी ब्राउजर मे नही हैं। अरे भाई ईतना गूस्साते क्यो हो। सच बोल रहा हूं। Ghost Browser की खासीयत है 1. छीपकर ब्राउजींग करना 2. ब्राउज कर रहें हैं और कोई आ जाए तो उसे पता भी नही चलेगा …

अब आया है “Ghost Browser” जीसके कूछ फंस्न कीसी भी ब्राउजर मे नही मीलेंगे। और ईसे आप चलाऎंगे तो कोई आएगा तो उसे नही पता चलेगा की आपने कोई ब्राउजर चलाया है। या सर्फींग कर रहे हैं। ईसके कूछ स्क्रीन साट भी दीये हैं। जो की नीचे है। साईज मात्र 1.63MB है।आप ईसे क्स्टूमाईज तो …

रतन जी ने कई सवाल पूछे हैं। और मेरे जैसा हि साईट बनाया है उनहोने।और www.hindimaja.com/topsites पर एह हफ्ते के अंदर 5567 क्लिक हूवे। यानी कि सात दीनो के अंदर छे: हजार वीजीटरों ने क्लिक किये। 🙂 यहीं पर “हाईपरवेब ईनेबल” कि सर्त पूरी हो गई ।सबूत चाहीये तो आप यहां क्लिक कर के ओभराल …

मेरा ऎड्ब्राईट का मीनीमम पेआउट पूरा हो गया है। यानी अब मै चेक ले सक्ता हूं। ऎड्ब्राईट मे मेरा 17520 ऎडरीवयू हो चूका है। ये हैरानी की बात है की मेरे ब्लाग पर उतने वीजीटर भी नही आऎं हैं। ये एड पर क्लिक करने के नंबर नही हैं ये 17520 एड–देने वालो के देखने का …