ब्लाग/साईट का बैकलींक कैसे बनाए? पेजरैंक बढाएं…

सभी अपने ब्लाग/साईट का पेज रैंक और बैकलींक ज्यादा से ज्यादा बढाना चाहते हैं ताकी ज्यादा से ज्यादा विजीटर आएं और एक बार बैकलींक बनाने के बाद तो विजीटर खुद ही आते रहते हैं।

आज बताने वाला हूं, बैकलींक कैसे बनाएं?

छोटा सा ट्रिक है, ईससे आपके ब्लाग/साईट का बैकलींक बहुत जल्दी बन जाएगा।

ब्लागर ट्रैफिक: ज्यादा से ज्यादा ब्लाग पर कमेंट मारें, और कमेंट मे अपने ब्लाग/साईट का लाईव लींक दें जैसे: “Kunnu Blog”  अब ईसपर आप क्लिक कर सकते हैं, ईसे ही लाईव लिंक कहा जाता है।

बहुत से हिन्दी ब्लाग हैं जिसपर आप आसानी से कमेंट मार सकते हैं, कोई कोई आपका कमेंट डिलीट भी कर सकता है 🙂

ईसके फायदे और नुकशान।

  1. अंग्रेजी हिन्दी सभी ब्लाग पर कमेंट मारें(लाईव लिंक देना कभी भी नही भूलें)
  2. एक से ज्यादा लिंक नहीं दें, ज्यादा लिंक देने पर आपका कमेंट डिलीट हो सकता है या स्पैम कमेंट की कैटेगरी मे जा सकता है।

हिन्दी ब्लाग के साईट आप Chitthajagat.in पर जा कर खोज सकते हैं

फारम से बैकलींक बनाना:
फारम मे पोस्ट करें और सिगनेचर लिंक मे अपने ब्लाग का लिंक दें ईससे आपको विजीटर मिलेंगे और पोस्ट मे लाईव लिंक देने पर बैकलींक मिलेगा

  1. v7n.com
  2. Top1Forum
  3. Web Hosting Talk
  4. Digitalpoint(सावधान: स्कैमरों का जाल है, साईट का एडमिनीस्ट्रेटर भी Fraud है – Fraud करने पर अभी तक केश लड रहा है)
  5. हिन्दी फारम गुगल पर खोजें और उसमे पोस्ट करें

साईट सबमिट कर के बैकलींक बनाना?

  1. गुगल मे सर्च करें Free submit site या free blog submit

फिर सभी साईटों में अपना साईट सबमिट कर दें।

अब गुगल मे सर्च करें Free Classifieds Submission और सभी मुफ्त क्लासीफाईड साईटों मे अपना साईट सबमिट कर दें।

Our New Site www.Dewlance.com

2
Leave a Reply

avatar
2 Comment threads
0 Thread replies
0 Followers
 
Most reacted comment
Hottest comment thread
1 Comment authors
SUNIL KUMARGYanesh Kumar Recent comment authors
  Subscribe  
newest oldest most voted
Notify of
SUNIL KUMAR
Guest

http://sunilkefunde.blogspot.com/2010/03/blog-post_17.html

GYanesh Kumar
Guest

kannu bhai
आपने बैक लिंक की फायदेमंद जानकारी दी उसके लिए धन्यवाद।मेरा ब्लाग आयुर्वेद संबन्धी जानकारी देता है। कृपया यहाँ आकर अपनी उपस्थिति प्रदान करें और कमेंट दें।
आपका ज्ञानेश कुमार
http://ayurvedlight.blogspot.in/